Browse By

Profile Photo
Profile Photo
Profile Photo
Profile Photo
Profile Photo
Profile Photo
Profile Photo
Profile Photo
Profile Photo
imageedit_6_9728423751

श्री चम्पेश्वरनाथ महादेव

श्री चम्पेश्वरनाथ महादेव जी का भी मन्दिर है, इस मन्दिर मे गर्भवति महिलाओं का जाना वर्जित है साथ हि महिलाओं को यहाँ प्रवेश के पहले बाल खोल लेने कि भी सलाह दी जाती है अर्थात बाल बाँधकर अन्दर प्रवेश करना भी मना है। कहा जाता है

imageedit_6_9728423751

श्री चम्पेश्वरनाथ महादेव

श्री चम्पेश्वरनाथ महादेव जी का भी मन्दिर है, इस मन्दिर मे गर्भवति महिलाओं का जाना वर्जित है साथ हि महिलाओं को यहाँ प्रवेश के पहले बाल खोल लेने कि भी सलाह दी जाती है अर्थात बाल बाँधकर अन्दर प्रवेश करना भी मना है। कहा जाता है

imageedit_6_9728423751

सिरपुर (समृध्दि की नगरी)

सिरपुर महासमुंद जिले में स्थित है, जो कि महानदी के पूर्वी तट पर स्थित है। यह राष्‍ट्रीय राजमार्ग क्र. 06 पर आरंग के बाद आगे की ओर 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। सिरपुर प्राचीन समय में दक्षिण कौशल की राजधानी रही है।  सिरपुर

imageedit_6_9728423751

सिरपुर (समृध्दि की नगरी)

सिरपुर महासमुंद जिले में स्थित है, जो कि महानदी के पूर्वी तट पर स्थित है। यह राष्‍ट्रीय राजमार्ग क्र. 06 पर आरंग के बाद आगे की ओर 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। सिरपुर प्राचीन समय में दक्षिण कौशल की राजधानी रही है।  सिरपुर

imageedit_6_9728423751

कुनकुरी का चर्च जशपुर छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के कुनकुरी में स्थापित महागिरजाघर अपनी कई विशेषताओं के कारण पूरे एशिया में दूसरे स्थान पर है । सबसे बड़ी विशेषता है इसकी बेजोड़ वास्तुकला जो यह एक ही बीम पर बना हुआ है । इसकी विशालता का अंदाजा आप इस

imageedit_6_9728423751

कुनकुरी का चर्च जशपुर छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के कुनकुरी में स्थापित महागिरजाघर अपनी कई विशेषताओं के कारण पूरे एशिया में दूसरे स्थान पर है । सबसे बड़ी विशेषता है इसकी बेजोड़ वास्तुकला जो यह एक ही बीम पर बना हुआ है । इसकी विशालता का अंदाजा आप इस

imageedit_6_9728423751

छत्तीसगढ़ का इतिहास

प्रागैतिहासिक काल : सभ्यता के आरम्भिक काल में मानव की आवश्यक्ताएँ न्यूनत्तम थीं, जो उसे प्रकृति से प्राप्त हो जाती थीं। मनुष्य पशुओं को भाँति ज़गलो, पर्वतों और नदी के तटों पर अपना जीवन व्यतीत करता था। नदियों की घाटियाँ प्राकृतिक रूप से मानव का

imageedit_6_9728423751

छत्तीसगढ़ का इतिहास

प्रागैतिहासिक काल : सभ्यता के आरम्भिक काल में मानव की आवश्यक्ताएँ न्यूनत्तम थीं, जो उसे प्रकृति से प्राप्त हो जाती थीं। मनुष्य पशुओं को भाँति ज़गलो, पर्वतों और नदी के तटों पर अपना जीवन व्यतीत करता था। नदियों की घाटियाँ प्राकृतिक रूप से मानव का

imageedit_6_9728423751

Sikaser Dam

गरिआबंद  जिला छत्तीसगढ़ में बने नौ नए जिलों में से एक है, जो 1 जनवरी, 2012 से शुरू होता है, 11 जनवरी, 2012 को मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह द्वारा औपचारिक रूप से लॉन्च किया गया। गरिआबंद का वर्तमान संग्राहक श्रुति सिंह है। सिकसर बांध स्थित है

imageedit_6_9728423751

Sikaser Dam

गरिआबंद  जिला छत्तीसगढ़ में बने नौ नए जिलों में से एक है, जो 1 जनवरी, 2012 से शुरू होता है, 11 जनवरी, 2012 को मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह द्वारा औपचारिक रूप से लॉन्च किया गया। गरिआबंद का वर्तमान संग्राहक श्रुति सिंह है। सिकसर बांध स्थित है