Browse By

Profile Photo
Profile Photo
Profile Photo
Profile Photo
Profile Photo

विरोधाभास की सत्ता

विश्व में जैसे विरोधाभास की सत्ता है। अद्भुत रूप से यह व्याप्त है। लगभग हर क्षण में जो अनिश्चितता का आश्चर्य है, उसके मूल में यही ‘विरोधाभास’ बसता है। नितांत प्रकश में आँखें अक्षम हो जाती हैं, अंधकार की तनिक उपस्थिति प्रकाश को देखने-समझने लायक

Revolution

आंदोलन

आंदोलन फिल्म ‘पाठशाला‘ का एक सीन नाना पाटेकर: ये कौन सी आंदोलन के जमाने वाली बातें कर रहे हो? शाहिद कपूर: आंदोलन का कोई जमाना नहीं होता सर! वो तो कभी भी कहीं भी शुरू हो सकता है right sir? Right! Right! बिल्कुल Right! आंदोलन

एक आईएएस ऑफिसर के संघर्ष और सफलता की कहानी

ये कहानी है Govind Jaiswal की , गोविन्द के पिता एक रिक्शा -चालक थे , बनारस की तंग गलियों में , एक 12 by 8 के किराए के कमरे में रहने वाला गोविन्द का परिवार बड़ी मुश्किल से अपना गुजरा कर पाता था । ऊपर

जानिए 500 और 1000 के नोट बंद करने वाली योजना के असली नायक को-अनिल बोकिल

मोदी ने अनिल बोकिल 9 मिनट का समय दिया और राहुल गाँधी ने इन्हें सिर्फ 15 सेकंड्स से ज्यादा का समय नहीं दिया . अनिल बोकिल ने पीएम मोदी को सुझाव देकर, भारत की अर्थक्रांति को बदल कर रख दिया आइये मिलाते है उस शख्स

1478618205-1616

जानिए 1000 और 500 पर लगे बैन से सम्बंधित सभी जानकारियां

– आज रात 12 बजे 500 और 1000 के नोट बंद होंगे -10 नवंबर से 30 दिसंबर के बीच निकटतम बैंक और पोस्ट ऑफिस में 500 और 1000 के नोट जमा कराए जा सकते हैं। -आपकी राशि पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। -10 नवंबर से

मंजिले और भी हैं और रुकना नहीं है कभी …!

यकीनन अपने लक्ष्य व उम्मीदों को लेकर सकारात्मक रहना चाहिए । लेकिन नकारात्मक चिंतन का भी प्रयोग किया जाना चाहिए । वस्तुतः जीवन में दोनों चिन्तनों का समुचित प्रयोग होना चाहिए । एक संतुलित सीमा के बाद सकारात्मकता, एक आश्वस्ति को जन्म देती है, जिससे

img_5212

व्हात्सप्प पर वायरल हो गया भारतीय इतिहास की झलक देता यह फोटो

1947 में भारत की आज़ादी से लेकर आज तक भारत का इतिहास इकतरफ़ा संवाद नहीं रही है| इसमें बहुत से रोचक प्रसंग हैं और बहुत से तो ऐसे हैं जिनकी पठकथा जनता द्वारा लिखी गयी है| ऐसा ही पटकथा की श्रंखला है भारत में संघवाद

संवाद के पुल और भाषा की चुनौतियाँ

  भाषा का आविष्कार किसी चमत्कार से कम नहीं । वैसे तो जगत के सभी जीव परस्पर संवाद के लिए एक भाषा का प्रयोग करते हैं, चाहे हम उसे समझें अथवा नहीं, लेकिन मानव ने अपनी भाषा को दर्ज करने की कला भी ईजाद की

rti-1

भू-माफियाओं के खिलाफ काफी लंबे समय से लड़ाई लड़ रहे मुंबई के भूपेंद्र वीरा

साथियों और मित्रों, भू-माफियाओं के खिलाफ काफी लंबे समय से लड़ाई लड़ रहे  मुंबई के सांताक्रूज निवासी 72 वर्षीय आरटीआई कार्यकर्ता भूपेंद्र वीरा की हत्या की गूँज महाराष्ट्र से यूपी तक पंहुंच गयी है और अपने साथी की हत्या से दुखी और उद्देलित यूपी के