Browse By

15 लाख दीयों से सजेंगे काशी के घाट, गंगा नदी की लहरों पर होगा लेजर शो

देव दीपावली को अयोध्‍या से भव्‍य बनाने में जुटा वाराणसी प्रशासन

काशी के 84 घाटों पर रोशन होंगे 15 लाख से अधिक दीये

लखनऊ :अयोध्या में दिवाली के भव्य व सफल आयोजन के बाद काशी की विश्व प्रसिद्ध देव दीपावली को योगी सरकार भव्य बनाने जा रही है। देव दीपावली पर पिछले साल काशी के घाटों को दस लाख दीयों की रोशनी से रोशन किया गया था, जबकि इस बार देव दीपावली को भव्‍य बनाने के लिए 15 लाख से अधिक दीयों को जलाया जाएगा। 30 नवम्बर कार्तिक पूर्णिमा के दिन बनारस के 84 घाट 15 लाख दीयों की रोशनी से झिलमिलाएंगे। कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शिरकत करने की संभावना है।

इस वर्ष देव दीपावली पर ना भूतो ना भविष्यति स्तर का ग्रैंड शो का आयोजन किया जाएगा। साथ ही गंगा नदी में पानी की लहरों पर लेजर शो एवं प्रोजेक्‍टर के माध्यम से काशी की महिमा, शिव की महिमा एवं गंगा अवतरण आदि का भव्य प्रदर्शन होगा। बनारस के घाटों पर देव दिवाली हर साल बड़े पैमाने पर मनाई जाती है और दुनिया भर से लोग इसे देखने आते हैं।

उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग के संयुक्‍त निदेशक अविनाश मिश्रा ने बताया कि इस बार देव दीपावली में 15 लाख से ज्यादा के दीयों से काशी के घाट सजाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि इस साल देव दीपावली पिछले वर्षों से बेहतर और अच्‍छे स्‍तर पर मनाई जाएगी। इस मौके पर एक बड़ा प्रकाश उत्सव आयोजित होगा। श्री मिश्रा ने बताया कि देव दीपावली के दिन 20-25 घाटों पर बड़े सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। यहां पर आने वाले पर्यटक नाव से भी इसका नजारा देख सकेंगे। पर्यटकों को पिछले वर्षों से अलग हटकर इस बार काफी कुछ नया देखने को मिलेगा। गंगा आरती में भी ऐसी व्यवस्था होगी कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और दूरी को बनाए रखें।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि सरकार की इच्छा है कि अयोध्या जैसा भव्य आयोजन काशी की देव-दीपावली में हो, इसको लेकर सरकार ने विशेष तैयारी करने का निर्देश दिया है।

क्या है धार्मिक मान्यता ?

माना जाता है कि देव दीपावली के दिन सभी देवता बनारस के घाटों पर आते हैं। कार्तिक पूर्णिमा के दिन भगवान शिव ने त्रिपुरासुर नाम के राक्षस का वध किया था। त्रिपुरासुर के वध के बाद सभी देवी-देवताओं ने मिलकर खुशी मनाई थी। काशी में कार्तिक पूर्णिमा के दिन देव दीपावली मनाने की परंपरा सदियों से चली आ रही है। इस दिन दीपदान करने का विशेष महत्व होता है। मान्‍यता है कि भगवान शंकर ने खुद देवताओं के साथ गंगा के घाट पर दिवाली मनाई थी, इसीलिए देव दीपावली का धार्मिक आध्यात्मिक और सांस्कृतिक महत्व भी बढ़ जाता है।

5 thoughts on “15 लाख दीयों से सजेंगे काशी के घाट, गंगा नदी की लहरों पर होगा लेजर शो”

  1. rolex replicas says:

    try again! once the crown is tightened down

  2. replica diamond rolex says:

    buy the 39 mm.

  3. synapse xt products says:

    I every time spent my half an hour to read this webpage’s articles all the
    time along with a mug of coffee.
    https://gumroad.com/erickrattoo/p/synapse-xt-scam-or-legit

  4. https://causesofearpain.blogspot.com/2020/11/sharp-pain-in-ear-that-comes-and-goes.html says:

    learn about “sharp pain in the ear that comes and goes” topic please visit:https://causesofearpain.blogspot.com/2020/11/sharp-pain-in-ear-that-comes-and-goes.html

    This video is about “sharp pain in the ear that comes and goes”
    topic information but we try to cover the following subjects:

    -ear anatomy and innervation

    -what causes ear pain

    -causes of ear pain

  5. https://ericjones.hatenablog.com/entry/2020/11/23/025219 says:

    “Getting into this diet was so easy and the results were so fast. After only 1 week on the Smoothie Diet I weighed myself and realized I had lost 8 pounds! I feel better and more confident than I have in a very long time, I don’t have to suck in my stomach to button my pants anymore and I still have to stop to do a double take everytime I walk in front of a mirror.
    https://ericjones.hatenablog.com/entry/2020/11/23/025219

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *