बेबाक राय

प्रज्वलंत

दर्शन

सरकार एवं सरोकार

जम्‍मू कश्‍मीर के बारामुला में सेना के कैंप पर आतंकी हमला, दो जवान घायल…

Browse By

indian-army_650x400_71475151133

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के बारामुला में 46 राष्ट्रीय राइफल के कैंप पर आतंकी हमले की खबर है. यह कैंप जांबाजपुरा में स्थित है. दोनों ओर से फायरिंग जारी है.

दो आतंकियों के मारे जाने की भी खबर है, हालांकि सेना ने अभी इसकी पुष्टि नहीं की है. साथ ही सेना के तीन और BSF के दो जवान घायल हुए हैं. सेना के कैम्प से गोलियां और ग्रेनेड धमाकों की आवाज़ आ रही है. तीन से चार आतंकी हैं जो दो गुटों में बंट गए हैं. एक गुट सामने से और दूसरा दूसरी तरफ से फायरिंग कर रहा है. फायरिंग की आवाज़ें रात 10:30 बजे से आनी शुरू हुईं.

सेना के सूत्रों ने बताया है की वहां दोनों तरफ से फायरिंग हो रही है. यानी सेना आतंकियों को माकूल जवाब दे रही है. आतंकी कैम्प में घुसने में कामयाब नहीं हुए हैं. बताया जा रहा है कि आतंकियों ने झेलम नदी की ओर से घुसपैठ की है. इलाके में सेना ने क्विक रिएक्शन टीमें तैनात कर दी हैं.

श्रीनगर स्थित पंद्रहवीं कोर के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि बारामूला के जांबाजपोरा में आतंकवादिों ने सैन्य शिविर पर गोलियां चलायीं. गोलीबारी अब भी जारी ही है. यह शिविर श्रीनगर से करीब 54 किलोमीटर दूर है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रीय राइफल्स की 46वीं बालियन में गोलीबारी की खबर है. समझा जाता है कि आतंकवादी बगल के बीएसएफ कैंप से इस प्रतिष्ठान में घुसे. सूत्रों ने बताया कि शिविर के समीप के मकानों से कुछ गोलीबारी हुई. यह हमला इस खुफिया सूचना के बाद हुई है कि 29 सितंबर को भारतीय सेना द्वारा किये गए लक्षित हमले के बाद जम्मू कश्मीर में सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर आतंकवादी हमला हो सकता है.
गौरतलब है कि बारामुला में सेना के कई प्रतिष्ठान मौजूद हैं. सूत्रों से हवाले खबर मिल रही है कि सेना ने दो आतंकियों को मार गिराया है.

उधर, जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर बताया कि उनके कुछ जानने वालों ने फोनकर भारी गोलबारी की खबर दी है. उन्होंने सबकी सलमती की दुआ मांगी है. गौरतलब है कि बीते 29 सितंबर को सेना ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में सर्जिकल ऑपरेशन को अंजाम देने की खबर दी थी. भारतीय सेना द्वारा नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार कर आतंकी लॉन्‍च पैड्स की गई सर्जिकल स्‍ट्राइक्‍स में लगभग 34 आतंकवादी मारे गए थे.

गौरतलब है कि पाकिस्तान के हथियारबंद आतंकियों ने 18 सितंबर को सेना के उरी शिविर में हमला किया था, जिसमें 19 जवान शहीद हो गए थे. हालांकि, भारतीय सेना मुठभेड़ में चार पाकिस्तानी आतंकवादियों को भी मार गिराया गया था.

295 total views, 1 views today

%d bloggers like this: