Browse By

All posts by Mani Harsh

imageedit_6_9728423751

सांप सीढ़ी का खेल — स्टोरी इंदिरा दाँगी — लीप सेकेण्ड | कथा-कहानी

साँप वाला बॉक्स उठाया और फिर दौड़ा — शायद बिना ही साँसों के। और अबकी जो गिरा…लिखते जाओ इंदिरा दाँगी…लिखते जाओ. प्रिय लेखक यों ही नहीं बनता; पाठक का प्रिय बन पाने के लिए वह अथाह मशक्कत से रचना कर्म का धर्म निभाता है,  उसका शुक्रिया

imageedit_6_9728423751

प्रेम शंकर शुक्ल की कविता “आग” #PoetryImpromptu

अचानक — बगैर किसी पूर्वयोजना के (इम्प्राम्प्टू) — ही जब कभी मैंने किसी कवि को रिकॉर्ड किया हो, वह कविता.. //pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); //pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); #PoetryImpromptu यानी अचानक — बगैर किसी पूर्वयोजना के (इम्प्राम्प्टू) — ही जब कभी

imageedit_6_9728423751

भूत की कहानी, डरावनी वाली: “कोई नहीं है!” Do Spirits Exist? #SundayNBT

दिल्ली के बुराड़ी इलाके में 11 लोगों की खुदकुशी की घटना… ललित के साथ उसके परिवार के बाकी 10 सदस्यों का बर्ताव उन्हें ‘शेयर्ड साइकोटिक डिस्ऑर्डर’ (पूरे परिवार पर) का शिकार दिखाता है। बुराड़ी कांड के संदर्भ में.. Do Spirits Exist? //pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle

imageedit_6_9728423751

भूत की कहानी, डरावनी वाली: “कोई नहीं है!” Do Spirits Exist? #SundayNBT

दिल्ली के बुराड़ी इलाके में 11 लोगों की खुदकुशी की घटना… ललित के साथ उसके परिवार के बाकी 10 सदस्यों का बर्ताव उन्हें ‘शेयर्ड साइकोटिक डिस्ऑर्डर’ (पूरे परिवार पर) का शिकार दिखाता है। बुराड़ी कांड के संदर्भ में.. Do Spirits Exist? //pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle

imageedit_6_9728423751

भूत की कहानी, डरावनी वाली: “कोई नहीं है!” Do Spirits Exist? #SundayNBT

दिल्ली के बुराड़ी इलाके में 11 लोगों की खुदकुशी की घटना… ललित के साथ उसके परिवार के बाकी 10 सदस्यों का बर्ताव उन्हें ‘शेयर्ड साइकोटिक डिस्ऑर्डर’ (पूरे परिवार पर) का शिकार दिखाता है। बुराड़ी कांड के संदर्भ में.. Do Spirits Exist? //pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle

imageedit_6_9728423751

जेब काटी जानी — विकास की निशानी #भाजपुवाच

भा ज पा कौ ड़े  प्रधानमन्त्री के पकौड़ा से शुरू हुआ सफर मुख्यमंत्री के पान ठेला होते हुए युवा नेता की पाकेटमारी के रास्ते अब अचार तक पहुँच गया है।  — एडव्होकेट पुष्पक बक्षी युवाओं को रोजगार मिल रहा है और इसलिए जेबकतरे भी जेब

imageedit_6_9728423751

जेब काटी जानी — विकास की निशानी #भाजपुवाच

भा ज पा कौ ड़े  प्रधानमन्त्री के पकौड़ा से शुरू हुआ सफर मुख्यमंत्री के पान ठेला होते हुए युवा नेता की पाकेटमारी के रास्ते अब अचार तक पहुँच गया है।  — एडव्होकेट पुष्पक बक्षी युवाओं को रोजगार मिल रहा है और इसलिए जेबकतरे भी जेब

imageedit_6_9728423751

“रेपिस्ट” राजेश झरपुरे की लिखी बच्चों की कहानी ? नहीं!

“दीदी! क्या सचमुच के डेविल होते हैं..?” बंटी ने सहज बालोचित्त जिज्ञासा से पूछा।” कहानी को दुबारा सुनने के बाद वह सहम गया था। “हाँ! दादी कहती है। टी.वी. में भी दिखाया जाता हैं, मीनस् होते हैं।” “रेपिस्ट” राजेश झरपुरे जेठ की शाम। कॉलोनी में

imageedit_6_9728423751

“रेपिस्ट” राजेश झरपुरे की लिखी बच्चों की कहानी ? नहीं!

“दीदी! क्या सचमुच के डेविल होते हैं..?” बंटी ने सहज बालोचित्त जिज्ञासा से पूछा।” कहानी को दुबारा सुनने के बाद वह सहम गया था। “हाँ! दादी कहती है। टी.वी. में भी दिखाया जाता हैं, मीनस् होते हैं।” “रेपिस्ट” राजेश झरपुरे जेठ की शाम। कॉलोनी में

imageedit_6_9728423751

भैय्यूजी की मौत हत्या या … संतोष भारतीय | Recovering the Reality of #BhaiyyujiMaharaj

यह अजीब कहानी है. कुहू को तो भैय्यू जी महाराज पारिवारिक कलह की वजह से लंदन भेज देना चाहते थे. अब कुहू को ही विलेन बनाने की कोशिश … — संतोष भारतीय जिसे जैसा सूझा उसने भैय्यू जी महाराज को लेकर वैसी कहानी गढ़ी और