Browse By

All posts by Mani Harsh

imageedit_6_9728423751

बंजारी देवी

बंजारी माता की मूर्ति बगुलामुखी रूप में होने से तांत्रिक पूजा के लिए विशेष मान्यता है। मंदिर में स्वर्ग-नरक के सुख और यातना को विविध मूर्तियों व पेंटिंग के माध्यम से दर्शाया गया है।देशभर में घूमने वाले बंजारा जाति के लोगों की देवी चूंकि बंजारी

imageedit_6_9728423751

दलित राजनीति के अलावा भी ‘काला’ को देखने के संदर्भ हैं — प्रकाश के रे | #Kaala

कोई फिल्म या कहानी एक रचनात्मक प्रक्रिया से गढ़ी जाती है, पर उसका एक संदर्भ-बिंदु जरूर होता है. इसी में अनेक तत्वों को मिलाकर कथानक बनता है. तो, सवाल उठना स्वाभाविक है कि आखिर यह करिश्माई ‘काला’ है कौन… काला की राजनीति — प्रकाश के

imageedit_6_9728423751

Amiritdhara waterfalls

अमृतधारा झरना छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में हसदेव नदी पर स्थित है। इस झरने की ऊंचाई करीब 90 फीट है और छत्तीसगढ़ के सबसे बड़े झरनों में से एक है। झरने के पास ही शिव मंदिर स्थित है, इसी कारण इस झरने को बेहद शुभ

imageedit_6_9728423751

Amiritdhara waterfalls

अमृतधारा झरना छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में हसदेव नदी पर स्थित है। इस झरने की ऊंचाई करीब 90 फीट है और छत्तीसगढ़ के सबसे बड़े झरनों में से एक है। झरने के पास ही शिव मंदिर स्थित है, इसी कारण इस झरने को बेहद शुभ

imageedit_6_9728423751

तुरतुरिया

      तुरतुरिया घने वन और प्रकृतिक छटाओं से आच्छादित छत्तीसगढ़ का प्रमुख धार्मिक सांस्कृतिक और पर्यटन का केंद्र है जहां विराजित हैं ऐसा माना जाता है कि तुरतुरिया ही वह स्थान है जहां रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मिकी जी का आश्रम और लव-कुश

imageedit_6_9728423751

तुरतुरिया

      तुरतुरिया घने वन और प्रकृतिक छटाओं से आच्छादित छत्तीसगढ़ का प्रमुख धार्मिक सांस्कृतिक और पर्यटन का केंद्र है जहां विराजित हैं ऐसा माना जाता है कि तुरतुरिया ही वह स्थान है जहां रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मिकी जी का आश्रम और लव-कुश

imageedit_6_9728423751

तुरतुरिया

      तुरतुरिया घने वन और प्रकृतिक छटाओं से आच्छादित छत्तीसगढ़ का प्रमुख धार्मिक सांस्कृतिक और पर्यटन का केंद्र है जहां विराजित हैं ऐसा माना जाता है कि तुरतुरिया ही वह स्थान है जहां रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मिकी जी का आश्रम और लव-कुश

imageedit_6_9728423751

छत्तीसगढ़ का शिमला

छत्तीसगढ़ के मैनपाट की वादियां शिमला का एहसास दिलाती हैं खासकर सावन और सर्दी के मौसम में. प्रकृति की अनुपम छटाओं से परिपूर्ण मैनपाट को सावन में बादल घेरे रहते हैं, तब इस की खूबसूरती और भी बढ़ जाती है. लगता है, जैसे आकाश से

imageedit_6_9728423751

छत्तीसगढ़ का शिमला

छत्तीसगढ़ के मैनपाट की वादियां शिमला का एहसास दिलाती हैं खासकर सावन और सर्दी के मौसम में. प्रकृति की अनुपम छटाओं से परिपूर्ण मैनपाट को सावन में बादल घेरे रहते हैं, तब इस की खूबसूरती और भी बढ़ जाती है. लगता है, जैसे आकाश से

imageedit_6_9728423751

छत्तीसगढ़ का शिमला

छत्तीसगढ़ के मैनपाट की वादियां शिमला का एहसास दिलाती हैं खासकर सावन और सर्दी के मौसम में. प्रकृति की अनुपम छटाओं से परिपूर्ण मैनपाट को सावन में बादल घेरे रहते हैं, तब इस की खूबसूरती और भी बढ़ जाती है. लगता है, जैसे आकाश से