Browse By

All posts by आलोक कुमार

Image Courtesy Youthkiawaz

भारतीय राष्ट्रवादःआज और कल

विगत कुछ दिनोँ के घटनाक्रम के दौरान समीक्षकोँ द्वारा भारतीय राष्ट्रवाद को नये सन्दर्भ मेँ स्पष्ट करने के प्रयास किये जा रहे हैँ।इस विषय पर व्यापक मतभेदोँ के बावजूद एक बात तो स्पष्ट है कि सरकार विरोधियोँ और समर्थकोँ के छद्म राजनीतिक पैँतरोँ के कारण भारतीय राष्ट्रवाद का विकासमान

इसलिए इस बार का वैलेन्टाईन डे…जरा प्रेम से

आजकल पारम्परिक विरोध के प्रचलित स्वरोँ की चुप्पी काफी अखर रही है।जबकि पिछले कुछ सालोँ में वैलेन्टाईन वीक के दौरान अपने युग के तमाम सीटीयाबाज और उनके फेर मेँ पडे निहायत सीधे साधे लोग संस्कृति संरक्षकोँ की फौज के रुप मेँ निर्ल्लजता के तथाकथित प्रदर्शन पर बंदिशे लगाने