बेबाक राय

प्रज्वलंत

दर्शन

सरकार एवं सरोकार

पंडित हरिशंकर तिवारी के घर पड़े छापे से पूर्वांचल की राजनीति गर्मायी

Browse By

गोरखपुर। पूर्वमंत्री पंडित हरिशंकर तिवारी के गोरखपुर स्थित आवास पर कल पुलिस के छापे से पूर्वी उत्तर प्रदेश की राजनीति गर्मा गई है। यहां का विप्र समाज इसे अपने ऊपर राजनैतिक हमला मान रहा है। इसके विरोध में कल सोमवार को गोरखपुर में महाधरने का आयोजन कर विरोध का बिगुल बजा दिया है। पंडित हरिशकर तिवारी के बेटे विनय शंकर तिवारी बसपा विधायक हैं। छापे की घटना के बाद विभिन्न दलों के एक दर्जन ब्राहमण विधायकों ने पंडित हरि शंकर तिवारी को अपना नैतिक समर्थन दिया है।

बताया जाता है कि कल तिवारी जी के आवास, जिसे हाता कहा जाता है, पुलिस ने दल बल के साथ छापा मारा। पुलिस का कहना है कि उसे एक अपराधी की तलाश थी और उसके हाता में छिपे होने की आशंका थी। बहरहाल छापे में न वह अपराधी मिलर न ही कोई आपत्तिजनक वस्तु पाई गई।

दूसरी तरफ हाते पर पर छापे की कार्रवाई से मौके पर पूरा शहर उमड़ पड़ा। ब्राह्मण समाज ने इसे राजनैतिक विद्धेष की संज्ञा दी और इसे अपने समाज पर अप्रत्यक्ष हमला माना। ऐसे लोगों का कहना था कि पंडित हरिशंकर तिवारी पूर्व मंत्री ही नहीं, पूर्वांचल के ब्राहमणोंकी आन बान औरशान के प्रतीक भी हैं।

बहरहाल छापे के बाद पूर्वांचल में पुलिस प्रशासन और प्रदेश नेतृत्व के खिलाफ गुस्सा देख जा रहा है। बड़हलगंज के कुनाल मनी त्रिपाठी, गौरव दुबे आदि का कहना है कि बीर बहादुर सिंह केसीएम बनने के बाद इसी प्रकार की हरकतें  की गई थीं, लेकिन इस समाज का कुछ नही बिगड़ा। आज भी कुछ नहीं होने वाला।

एक दर्जन विधायक पंडित जी के सम्पर्क में

खबर है कि पंउित हरिशंकर तिवारी के आवास पर छापे की कारवाई से तमाम ब्राह्मण विधायक भी क्षुब्ध है। हाता के सूत्रों के सू़त्रों पर सकीन करें तो कम से कम एक दर्जन सजातीय विधायकों ने पंउित जी को फोन कर उन्हें नैतिक समर्थन दिया है और भविष्य में हर सहयोग देने का वादा भी किया है। आज शाम तकऐसे विधायकों की तादाद और बढ़ जाने की उम्मीद है।

हम सत्ता पक्ष से डरने वाले नहीं

इस बारे में पउिंत जी के पुत्र व चिल्लूपार के बसपा विधायक  विनय शंकर का कहना है कि यह राजनीतिक विद्धेष के तहत की गई कर्रवाई है। लेकिन हमसंघर्ष करेंगे। पुलिस बिना वारंट के आई, यह हमारी प्रतिष्ठा पर चोट का प्रयास है। मगर हम डरने वाले नहीं है और इसका मुकाबला करेंगे।

विरोध में धरना सोमवार को

हरते पर छापे की कार्रवाई को प्रतिष्ठा से जोड़ते हुए विप्र समाज ने कल गोरखपुर मेंमहाधरने का आयोजन किया है। इसे कई ब्रह्मण संगठनों ने समर्थन दिया है। विधायक विनय शंकर के अनुसार धरना सुबह से कलक्ट्रेट परिसर में आयोजित किया जायेगा।  आलोक त्रिपाठी ने धरने में तमाम लोगों से शामिल होने की अपील की है।

493 total views, 1 views today

अगर आपको यह लेख उपयोगी लगा तो अपने मित्रों के साथ सोशल मीडिया और WhatsApp पर शेयर कर हमारी सहायता करें

If you found the post useful please share it with your friends on social media and whatsapp

%d bloggers like this: