Car या Bike में भूलकर भी न करवाएं टैंक फुल, वरना हो सकता है बड़ा नुकसान….

monika
2 Min Read

[ad_1]

डेस्क : आज के समय वाहनों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। वाहन चलाने के लिए उसे मेंटेन भी करना पड़ता है। इसके लिए उपभक्ता विभाग बीच बीच में सर्कुलर भी जारी करता है, जिसे वाहन चालकों पालन करना चाहिए। इसी कड़ी में उपभोक्ता मामले के मंत्रालय ने वाहनों में फ्यूल भरने के संबंध में सर्कुलर जारी किया है। वहीं मंत्रालय ने वाहन निर्माता कंपनियों पर फ्यूल टैंक की क्षमता सही से कम दिखाने का भी आरोप लगाया है।

फ्यूल टैंक (Fuel Tank) फुल न करवाएं

मंत्रालय ने वाहनों में ईंधन भरवाने को लेकर भी नई गाइडलाइन जारी की है, जिसमें ईंधन भरते समय कुछ सावधानियां बरतने को कहा गया है। कहा गया है कि गाड़ियों में फ्यूल टैंक भरना खतरनाक हो सकता है। यदि टैंक भरा हुआ है, तो ईंधन लीक हो सकता है और ऐसी स्थिति में आग लगने का खतरा बढ़ जाता है।

निर्देश में आगे कहा गया है कि टैंक नहीं भरना चाहिए ताकि पेट्रोल से निकलने वाली भाप को जगह मिल सके। जब टैंक भरा होता है तो अधिक दबाव बनता है जिसके कारण आवश्यकता से अधिक ईंधन इंजन में चला जाता है और इसका असर वाहन के इंजन प्रदर्शन पर पड़ता है। lइसके परिणामस्वरूप ईंधन ठीक से नहीं जलता और अधिक हाइड्रोकार्बन उत्सर्जित होता है।

गाइडलाइंस में कहा गया है कि अगर टैंक भरा हुआ है तो वाहन के झुकने पर ईंधन बाहर आ सकता है। पेट्रोल अत्यधिक ज्वलनशील पदार्थ है और यदि टैंक से ईंधन लीक हो जाए तो आग लग सकती है। मंत्रालय ने वाहन कंपनियों से भी अपील की है कि वे अपने ग्राहकों को अनिवार्य रूप से ईंधन टैंक न भरने की हिदायत दें।

[ad_2]

यह भी पढ़ें –
[catlist]

Leave a comment