Railway New Guideline : रात में ट्रेन सफर करने वालों के लिए बदल गया सोने का नियम, जानें- नया नियम

monika
2 Min Read

[ad_1]

Railway New Guideline: यात्राओं की सबसे सुखद अल्बम ट्रेन की होती है, यानि जब हम लंबी यात्राओं पर जाते हैं, तो वो यात्राएं ट्रेन यात्रा ही होती हैं, जिसमें दोस्तों, रिश्तेदारों के साथ हंसी मज़ाक के साथ ही अंताक्षरी जैसे गेम का भी महत्वपूर्ण रोल होता है, लेकिन यदि आप यात्रा करने जा रहे हैं, तो आपको अब थोड़ा संभलने की जरूरत है, क्योंकि अब रेलवे ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है, जिसको जानना आपके लिए बेहद जरूरी है। 

क्या कहती है रेलवे की नई गाइडलाइन?

रेलवे की नई गाइडलाइन के अनुसार अब कोई भी यात्री आपके कोच, डिब्बे या सीट पर जोर-जोर से बात नहीं कर सकता, जोर-जोर से मोबाइल पर गाने नहीं सुन सकता यानि अब किसी यात्री को ये अधिकार नहीं की वो आपकी यात्रा, आपकी नींद में खलल डाले। 

कई यात्रियों की अक्सर ये शिकायत होती है कि यात्रा के दौरान देर रात तक दूसरे यात्री तेज आवाज़ में गाने सुनते हैं या फोन पर बात करते हैं।

कुछ यात्रियों की ये भी शिकायत होती है कि रेलवे एस्कॉर्ट और मेनटेंस स्टाफ भी ऊंची आवाज में बात करते हैं, जिससे नींद में खलल पड़ता है।

इस सबको देखते हुए रेलवे ने नई गाइडलाइन जारी की है, जिसके बाद अगर कोई नियमों का पालन नहीं करेगा तो उस पर भी कार्यवाही होगी।

क्या है रेलवे के नए नियम?

  • रेलवे बोर्ड ने कहा है कि रात के 10 बजे के बाद अगर कोई मोबाइल पर तेज आवाज़ में बात करता है तो उस पर कार्यवाही की जाएगी।
  • यात्री ना ही तेज आवाज़ में गाने या कुछ और सुन सकते हैं और ना ही बात कर सकते हैं।
  • अगर ऐसी परस्थिति में कोई यात्री शिकायत करता है तो उसकी समस्या के समाधान की जिम्मेदारी ट्रेन में मौजूद स्टाफ की होगी।

[ad_2]

यह भी पढ़ें –
[catlist]

Leave a comment