क्या IMEI नंबर से चोरी हुआ स्मार्टफोन मिल जाएगा? जानें – कैसे होती है ट्रैकिंग..

[ad_1]

Tips & Tricks : आज के डिजिटल युग में लगभग सभी के पास स्मार्टफोन हो चुके हैं और इस जमाने में हर किसी को और मोबाइल की लत लग चुकी है। हमारे मोबाइल में हमारी आधी दुनिया बसी हुई है और इसमें कई सारी महत्वपूर्ण जानकारियां भी सेव है। इसलिए हमें इसके डाटा और मोबाइल का पूरा ध्यान रखना चाहिए।क्या आप जानते हैं कि मोबाइल चोरी हो जाने या खो जाने के बाद आप इस ट्रैक कर सकते हैं?

अगर नहीं पता तो हम आपको बता दें कि हमारे मोबाइल में एक यूनिक नंबर होता है जिसे हम IMEI नंबर कहते है। यह एक तरीके का आइडेंटिटी सर्टिफिकेट जैसा होता है। IMEI ट्रैकर नेटवर्क प्रोवाइड कराने वाली कंपनियों के काम आता है, वो इसके जरिए नेटवर्क पर एक मोबाइल फोन की अलग से पहचान करे और अपनी सर्विसेज इस तक पहुंचाने के लिए करती हैं। अगर इसमें किसी ने दूसरी सिम डाल दी है तो भी आप इसका पता कर सकते हैं।

IMEI नंबर आपके मोबाइल के पीछे लिखा होता है या फिर अंदर बैटरी के नीचे लिखा होता है। IMEI नंबर को कोई भी नहीं बदल सकता है। एक बार के लिए आपकी सिम को निकाल सकता है या फिर लोकेशन को ऑफ कर सकता है। लेकिन IMEI नंबर को ऑफ़ नहीं कर सकते है। आप IMEI नंबर को ब्लॉक करवा सकते है ताकि कोई व्यक्ति आपकी जानकारी का गलत फायदा ना उठा सके।

IMEI नंबर से ऐसे ढूंढे फोन

  • सबसे पहले आपको मोबाइल खो जाने पर इसकी रिपोर्ट पुलिस में दर्ज करवानी होगी और इसकी एक कॉपी अपने पास रखनी होगी।
  • अब आपको नेटवर्क कंपनी से एक डुप्लीकेट सिम निकालने के लिए कहना होगा और इसके बाद जब आप IMEI नंबर को ब्लॉक करेंगे तो इसी नंबर पर OTP जायेगा। IMEI नंबर ब्लॉक होने से आप अपना फोन तो ट्रैक नहीं कर पाएंगे लेकिन यह पूरी तरह से खराब हो जाएगा और किसी काम का नहीं रहेगा।
  • अब आपको https://ceir.gov.in/Request/CeirUserBlockRequestDirect.jsp वेबसाइट पर जाकर IMEI नंबर ब्लॉक करने की रिक्वेस्ट दर्ज करनी होगी और साथ में अपनी पुलिस रिपोर्ट, आईडी प्रूफ, परचेज इन्वॉइस और मांगे गए दूसरे डॉक्यूमेंट्स देने होंगे।
  • अब आप जो नंबर दर्ज करेंगे वो पहले वाला ही नंबर होना चाहिए और इस पर आपको OTP आएगा।
  • अब आपको एक रिक्वेस्ट आईडी भी मिलेगी जिससे आगे कभी आपको अपना IMEI नंबर अनब्लॉक कराना हो तो ये काम आएगी।

ब्लॉक करने से फोन कैसे होगा ट्रैक?

जब आप मोबाइल फोन चोरी होने की शिकायत दर्ज करते हैं तो नेटवर्क ऑपरेटर आपकी डिवाइस का IMEI नंबर को सेंट्रल डाटाबेस के साथ ब्लैक लिस्ट करके शेयर करता हैं। अब दूसरे नेटवर्क ऑपरेटर भी इस नंबर को ब्लॉक कर देते हैं जिससे कि कोई दूसरी सिम इसमें काम नहीं करती है। बेसिकली आप अपने फोन को लेकर नेटवर्क प्रोवाइडर्स को अलर्ट कर सकते हैं, इससे जब वो नेटवर्क पर इस नंबर को डिटेक्ट करते हैं तो आपके फोन का पता चल जाता है।

[ad_2]

यह भी पढ़ें –
[catlist]

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply