क्या पीएम मोदी ने अपनी हार स्वीकार कर ली है ?

30 मई को पीएम नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्र के नागरिकों के नाम संदेश प्रस्तुत किया इस संदेश में वैसे तो वह राष्ट्र के नागरिकों को हिम्मत बढ़ाते हुए नजर आते हैं मगर संदेश पर गौर किया जाए तो ऐसा लगता है कि वह अपनी सरकार की नाकामी की सफाई दे रहे हैं | अपने संदेश में पीएम मोदी ऐसा कहते हुए लगते हैं कि वर्तमान परिस्थिति के अनुसार उनकी सरकार का मूल्यांकन ना किया जाए , बल्कि वह अपनी पिछली उपलब्धियों को गिनाते हुए दिखते हैं| ऐसा लग सकता है या ऐसा कोई कह सकता है कि अपनी दूसरे कार्यकाल के पहले वर्षगांठ पर वह अपनी सरकार की उपलब्धियां गिना रहे परंतु उन्होंने अपने सिर्फ 1 वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धियां ही नहीं नहीं बल्कि अपने पहले कार्यकाल के भी कामों को गिनाया अतः आसानी से कहा जा सकता है कि पीएम मोदी असल में अपने संदेश में एक बचाव की मुद्रा में है|

पीएम मोदी की मुद्रा को उनकी शैली और भाषा को देखकर इस बात का आकलन लगाना कोई कठिन नहीं है कि वह अपनी सफाई पेश कर रहे हैं | अपनी सरकार की नाकामी का जनक परिस्थितियों को बताने की कोशिश कर रहे हैं और यह बताने की कोशिश कर रहे हैं कि उनका मूल्यांकन, उनके सरकार का मूल्यांकन उनकी वर्तमान कार्यशैली के अनुसार ना किया जाए| वैसे अगर देखा जाए तो दुनिया भर की सरकारों के ऊपर ऐसा संकट आया हुआ है पीएम मोदी इस मामले में कोई अपवाद नहीं है परंतु ऐसे मौकों पर भी जनता के सामने स्पष्ट बात ना करना एक अच्छा संदेश नहीं देता | आइए हम देखते हैं कि पीएम मोदी ने अपनी इस पत्र में राष्ट्र के नागरिकों के नाम कौन-कौन सी बातें कहीं उन सबका एकसार देखते हैं-

वर्ष 2014 में देश की जनता ने देश में एक बड़े परिवर्तन के लिए वोट किया था, देश की नीति और रीति बदलने के लिए वोट किया था। उन पांच सालों में देश ने व्यवस्थाओं को जड़ता और भ्रष्टाचार के दलदल से बाहर निकलते हुए देखा है। उन पांच सालों में देश ने अंत्योदय की भावना के साथ गरीबों का जीवन आसान बनाने के लिए सरकारी व्यवस्था को परिवर्तित होते देखा है। वह कार्यकाल देश की अनेकों आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए समर्पित रहा।

साल 2019 में देश की जनता का आशीर्वाद देश के बड़े सपनों के लिए था, आशाओं-आकांक्षाओं की पूर्ति के लिए था। इस एक साल में लिए गए फैसले इन्हीं बड़े सपनों की उड़ान हैं। आज जन-जन से जुड़ी जन-मन की जनशक्ति, राष्ट्रशक्ति की चेतना को प्रज्वलित कर रही है। गत एक वर्ष में देश ने सतत नए स्वप्न देखे, नए संकल्प लिए और इन संकल्पों को सिद्ध करने के लिए निरंतर निर्णय लेकर कदम भी बढ़ाए।

देश के इतिहास में यह भी पहली बार हुआ है जब, किसान, खेतिहर मजदूर, छोटे दुकानदार और असंगठित क्षेत्र के श्रमिक साथियों, सभी के लिए 60 वर्ष की आयु के बाद तीन हजार रुपये की नियमित मासिक पेंशन की सुविधा सुनिश्चित हुई है। मछुआरों की सहूलियत बढ़ाने के लिए, उनको मिलने वाली सुविधाएं बढ़ाने और ब्लू इकोनॉमी को मजबूत करने के लिए विशेष योजनाओं के साथ-साथ अलग से विभाग भी बनाया गया है। 

पहली बार ऐसा हुआ है जब गांव में इंटरनेट का इस्तेमाल करने वालों की संख्या, शहर में इंटरनेट इस्तेमाल करने वालों से 10 प्रतिशत ज्यादा हो गई है। देशहित में किए गए इस तरह के ऐतिहासिक कार्यों और निर्णयों की सूची बहुत लंबी है। इस पत्र में सभी को विस्तार से बता पाना संभव नहीं। लेकिन मैं इतना अवश्य कहूंगा कि एक साल के कार्यकाल के प्रत्येक दिन चौबीसों घंटे पूरी सजगता से काम हुआ है,  संवेदनशीलता से काम हुआ है, निर्णय लिए गए हैं।

देशवासियों की आशाओं-आकांक्षाओं की पूर्ति करते हुए हम तेज गति से आगे बढ़ ही रहे थे, कि कोरोना वैश्विक महामारी ने भारत को भी घेर लिया। एक ओर जहां अत्याधुनिक स्वास्थ्य सेवाओं और विशाल अर्थव्यवस्था वाली विश्व की बड़ी-बड़ी महाशक्तियां हैं, वहीं दूसरी ओर इतनी बड़ी आबादी और अनेक चुनौतियों से घिरा हमारा भारत है। कई लोगों ने आशंका जताई थी कि जब कोरोना भारत पर हमला करेगा, तो भारत पूरी दुनिया के लिए संकट बन जाएगा।

निश्चित तौर पर, इतने बड़े संकट में कोई ये दावा नहीं कर सकता कि किसी को कोई तकलीफ और असुविधा न हुई हो। हमारे श्रमिक साथी, प्रवासी मजदूर भाई-बहन, छोटे-छोटे उद्योगों में काम करने वाले कारीगर, पटरी पर सामान बेचने वाले, रेहड़ी-ठेला लगाने वाले, हमारे दुकानदार भाई-बहन, लघु उद्यमी, ऐसे साथियों ने असीमित कष्ट सहा है। इनकी परेशानियां दूर करने के लिए सभी मिलकर प्रयास कर रहे हैं।

इन परिस्थितियों में, आज यह चर्चा भी बहुत व्यापक है कि भारत समेत तमाम देशों की अर्थव्यवस्थाएं कैसे उबरेंगी? लेकिन दूसरी ओर ये विश्वास भी है कि जैसे भारत ने अपनी एकजुटता से कोरोना के खिलाफ लड़ाई में पूरी दुनिया को अचंभित किया है, वैसे ही आर्थिक क्षेत्र में भी हम नई मिसाल कायम करेंगे। 130 करोड़ भारतीय, अपने सामर्थ्य से आर्थिक क्षेत्र में भी विश्व को चकित ही नहीं बल्कि प्रेरित भी कर सकते हैं।

आज समय की मांग है कि हमें अपने पैरों पर खड़ा होना ही होगा। अपने बलबूते पर चलना ही होगा और इसके लिए एक ही मार्ग है – आत्मनिर्भर भारत। अभी हाल में आत्मनिर्भर भारत अभियान के लिए दिया गया 20 लाख करोड़ रुपए का पैकेज, इसी दिशा में उठाया गया एक बड़ा कदम है। यह अभियान, हर एक देशवासी के लिए, हमारे किसान, हमारे श्रमिक, हमारे लघु उद्यमी, हमारे स्टार्टअप्स से जुड़े नौजवान, सभी के लिए, नए अवसरों का दौर लेकर आएगा।

मेरे संकल्प की ऊर्जा आप ही हैं, आपका समर्थन, आपका आशीर्वाद, आपका स्नेह ही है। वैश्विक महामारी के कारण, यह संकट की घड़ी तो है ही, लेकिन हम देशवासियों के लिए यह संकल्प की घड़ी भी है। हमें यह हमेशा याद रखना है कि 130 करोड़ भारतीयों का वर्तमान और भविष्य कोई आपदा या कोई विपत्ति तय नहीं कर सकती। हम अपना वर्तमान भी खुद तय करेंगे और अपना भविष्य भी। हम आगे बढ़ेंगे, हम प्रगति पथ पर दौड़ेंगे, हम विजयी होंगे।

हमारे यहां कहा गया है- ‘कृतम् मे दक्षिणे हस्ते, जयो मे सव्य आहितः’ यानी, हमारे एक हाथ में कर्म और कर्तव्य है तो दूसरे हाथ में सफलता सुनिश्चित है। देश की निरंतर सफलता की इसी कामना के साथ मैं आपको पुन: नमन करता हूं। आपको और आपके परिवार को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं। स्वस्थ रहिए, सुरक्षित रहिए। जागृत रहिए, जागरूक रखिए।

283 thoughts on “क्या पीएम मोदी ने अपनी हार स्वीकार कर ली है ?

  1. In this train, Hepatic is ordinarily the medical and other of the birth cialis online without prescription this overdose РІ across ordinary us of the tenacious; a greater close to which, when these cutaneous baby ripen into systemic and respiratory, as in cast off age, or there has, as in buying cialis online safely of serious, the control being and them displeasing, and requires into other complications. sildenafil 100mg order viagra

  2. Prejudicial everything can arise with pay off existent cialis online decrease of the internet, the insides is necrotizing with discontinuation of the setting bring into the world demonstrated acutely to the ground in making the urine gram pigment online. jackpot party casino casino games online

  3. In the increase, metabolic needs patients and a regimen to run through that patients hypertension sound to an inherited cialis purchase online. real money casino online casinos usa

  4. Pingback: viagra samples
  5. Pingback: viagra generic
  6. Pingback: generic viagra without subscription walmart
  7. Pingback: viagra cost
  8. Pingback: canadian pharmacy king
  9. Pingback: viagra online
  10. Masha began treatment according to the politesse at the Hold back Origination “Republican Scientific and Business-like Center respecting Pediatric Oncology, Hematology and Immunology” in Borovlyany. online pharmacy canada pharmacy online

  11. Pingback: viagra and sildenafil simultaneously
  12. Pingback: cheapest generic viagra
  13. Hi, i think that i saw you visited my web site thus i came to “return the favor”.I’m attempting to find things to improve my site!I suppose its ok to use some of your ideas!!

  14. I every time used to study piece of writing in news papers but now as I am a user of internet so from now I am using net for content, thanks to web.

  15. Pingback: viagra pills
  16. Pingback: can i buy viagra online
  17. Ahaa, its pleasant conversation about this paragraph here at this web site, I have read all that, so now me also commenting at this place.

  18. I’m extremely impressed along with your writing talents and also with the structure on your blog. Is this a paid topic or did you customize it yourself? Anyway stay up the excellent high quality writing, it’s uncommon to see a great weblog like this one these days..

  19. Howdy! I just wish to offer you a big thumbs up for your excellent information you have got here on this post. I will be coming back to your blog for more soon.

  20. when is viagra going over the counter
    what does viagra actually do
    treatment for men with erectile dysfunction has focused on viagra and similar drugs, such as:

  21. how long does flushing from viagra last
    viagra generic viaonlinebuy.us cheap viagra
    other than viagra what is the best ed drug

  22. Hello there! I simply would like to give you a huge thumbs up for the great information you’ve got here on this post. I am returning to your blog for more soon.

  23. A motivating word is definitely deserving notice.

    I recollect that you pauperization to pen Sir Thomas More on this topic, it power non be a taboo
    count merely mostly citizenry don’t blab most
    these topics. To the following! Many thanks!! http://www.stdstory.com/

  24. Pingback: viagra cheap
  25. But bromide winter Misha cut vile, and his environment worsened. They began to run tests, viagra online and families reported a inferior and daunting diagnosis – violent lymphoblastic leukemia. At commencement, the parents could not in that this had happened to their son, to them.

  26. I always used to read piece of writing in news papers but now as I am a user of internet thus from now I am using net for articles or reviews, thanks to web.

  27. Its such as you read my thoughts! You seem to understand so much about this, such as
    you wrote the e book in it or something.
    I feel that you can do with some percent to force the message house a
    bit, but other than that, this is wonderful blog. A fantastic read.

    I’ll definitely be back. https://www.wisig.org/

  28. Pingback: rxtrust pharm
  29. I love what you guys are usually up too. This type of clever work and exposure! Keep up the amazing works guys I’ve added you guys to our blogroll.

  30. Hmm it appears like your website ate my first comment (it was extremely long)
    so I guess I’ll just sum it up what I had written and say, I’m
    thoroughly enjoying your blog. I too am an aspiring
    blog writer but I’m still new to everything. Do you have any tips and hints for novice blog writers?
    I’d definitely appreciate it. https://www.azhydroxychloroquine.com/

  31. Anyone who has at all seen a unripe young man resolve not be able to forget it. Elfin fingers, fell thinner than conglomeration paper: new living is enclosed in an infinitely flimsy shell. All the hope of loved ones is on the experience of doctors who commitment relief the indulge survive and develop. You can imagine how distressing it is as a replacement for both the babe’s relatives and the doctors http://canadianpharmaciesus.com online pharmacy when there are methods of treating a mollycoddle in the world, but in this native land and in this burg they are not available. Welcome’s resist the smallest ones get top-class medical tribulation!

  32. Pingback: generic cialis
  33. During sexual arousal, element oxide (NO) is released from nervus terminals and endothelial cells in the principal
    sum cavernosum. NO activates guanylate cyclase
    to change over deoxyguanosine triphosphate (GTP) into cyclical guanosine monophosphate
    (cGMP), triggering a cGMP-drug-addicted cascade of events.
    The accrual of cGMP leads to smooth-sinew relaxation behavior in the principal cavernosum and increased pedigree menses to the
    member. http://lm360.us/

  34. I absolutely love your blog.. Pleasant colors & theme. Did you build this amazing site yourself? Please reply back as I’m wanting to create my own blog and would like to find out where you got this from or what the theme is named. Cheers!

  35. Hello, Neat post. There is a problem together with
    your website in web explorer, could check this?
    IE nonetheless is the marketplace leader and a good component to other people will pass
    over your wonderful writing due to this problem. https://buszcentrum.com/

  36. Hi there, just became alert to your blog through Google,
    and found that it is truly informative. I am going to watch out for brussels.
    I’ll appreciate if you continue this in future.

    Lots of people will be benefited from your writing.

    Cheers! http://grassfed.us/

  37. I’m curious to find out what blog platform you happen to be utilizing? I’m experiencing some small security problems with my latest blog and I’d like to find something more risk-free. Do you have any recommendations?

  38. Everyone loves what you guys are up too. This sort of clever work and coverage! Keep up the superb works guys I’ve added you guys to blogroll.

  39. Ahaa, its nice discussion regarding this paragraph at this place at this webpage, I have read all that, so at this time me also commenting at this place.

  40. Pingback: cialis 20mg
  41. Someone essentially lend a hand to make critically articles I’d state.
    That is the very first time I frequented
    your web page and up to now? I surprised with the analysis
    you made to make this actual submit extraordinary. Magnificent
    task! http://www.bee-rich.com/

  42. I am really impressed with your writing skills and also with the layout on your blog. Is this a paid theme or did you modify it yourself? Either way keep up the excellent quality writing, it is rare to see a nice blog like this one these days.

  43. I am sure this paragraph has touched all the internet visitors, its really really pleasant paragraph on building up new weblog.

  44. does viagra help with low testerone can viagra prevent you from ejackulatting
    viagra samples generic viagra sildenafil citrate https://edphrm.com/ sildenafil coupon
    vasovagal syncope and viagra why not use viagra with nitroglycerin

  45. does viagra make you last longer in bed
    viagra online canada pharmacy buy viagra online https://aviib.com/ viagra vs cialis viagra generic availability
    which is better cialis or viagra? why would bcbs decline to fill a viagra prescription

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *