क्या आप जानते है रोने पर कई तरह के निकलते हैं आंसू? आज जान ले सभी का मतलब….

[ad_1]

डेस्क : कभी-कभी लोग बहुत दुखी हो जाते हैं और उनकी आंखों में आंसू आ जाते हैं। इसमें खुशी, गम और कभी-कभी भावनात्मक रूप से बंधे होने पर भी लोगों की आंखों में आंसू आ जाते हैं। वैज्ञानिकों के अनुसार आंसू कई प्रकार के होते हैं।

आपकी आंखों से निकलने वाले आंसुओं के अलग-अलग मतलब हो सकते हैं। यह बात कइयों को नहीं पता होता है। वैज्ञानिक ने क्या कहा है, इसी के आधार पर आइए आज हम आंसुओं का मतलब विस्तार से जानते हैं।

हम क्यों रोते हैं?

आँसू कई प्रकार के होते हैं, अलग-अलग पदार्थों से बने होते हैं। हम रोते हैं और अपनी आँखों की सुरक्षा के लिए, जलन दूर करने के लिए आँसू बहाते हैं। येल स्कूल ऑफ मेडिसिन में नेत्र विज्ञान के प्रोफेसर डेविड सिल्वरस्टोन, एम.डी., बताते हैं “आँसू तीन प्रकार के होते हैं – बेसल आँसू, भावनात्मक आँसू और रिफ्लेक्स आँसू।” आंसुओं के तीनों रूपों में कुछ चीजें समान हैं वे सभी कुछ प्रमुख सामग्रियों को साझा करते हैं और सभी तीन परतों से बने होते हैं।

आँसू कैसे बनते हैं?

सिल्वरस्टोन का कहना है कि आपके आँसुओं में पानी आपकी आँखों के ऊपर अश्रु ग्रंथियों द्वारा निर्मित होता है। यह तरल पदार्थ नमक और पानी से बना होता है, जो आपकी आंखों की सतह को चिकना और स्वस्थ रखने में मदद करता है।

बलगम और तेल आपकी मेइबोमियन ग्रंथियों से आते हैं, आपकी पलकों के किनारे पर स्थित तेल ग्रंथियां, जहां आपकी पलकें होती हैं। जैसे ही आप पलक झपकाते हैं, ये पदार्थ एक साथ आते हैं और आपके कॉर्निया की सतह पर फैल जाते हैं। फिर वे आपकी आंसू नलिकाओं, आपकी पलकों के अंदरूनी कोनों में छोटे छिद्रों और आपकी नाक में प्रवाहित होते हैं।

[ad_2]

यह भी पढ़ें –
[catlist]

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply